Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi

             Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi

Hello, guys In this article I will give You Shayaries on Bachpan ka Pyar which is Fresh, free and New. You will Allow or Free to use our Shayari where you want.
 
************Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi************
 
उसे देखकर ही, मेरी नजरें बहक जाती थीं,
ये उन दिनों की बात है, जब वो स्कूल आती थी|
बचपन के प्यार को यूँ जुदा न करना, याद हमारी आये तो मिलने की दुआ करना|
************Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi************
पढ़ना सबसे कठिन मेरे लिए था, कठिन था स्कूल जाना
पर उसके आने से पूरी पाठशाला महक जाती थी|
बचपन में जहाँ चाहा हँस लेते थे, जहाँ चाहा रो लेते थे, और अब 
मुस्कान को तमीज चाहिए… और आंशुओं को तन्हाई|
************Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi************
 
उसे देखना इश्क़ था या था बचपना मेरा,
सब पढ़ते रहते थे किताबें वो नजरें मिलाती थी|
धूल में लिपटा था तन मगर मन साफ़ था, बचपन का वो दिन बड़ा ही खास था|
************Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi************
मैं किताबों से चुरा नजरें उससे मिलाता था,
उसे इश्क़ था या नहीं पर वो भी मुस्कुराती थी|
बचपन का वह पहला प्यार
आज सालो बाद फिर याद आ गया ,
चेहरे पे मुस्कान
अनोखी सी सजा गया|
************Bachpan Ka Pyar Shayari************
चोरी से चुराई थी किताब से फोटो मैंने उसकी
मुझे ही छोड़कर के वो, सबको चोर बताती थी|
वह क्लासरूम की नोकझोक,
वह कैंटीन की मौज मस्ती,
वह बात बात पे मुह फुलाना
फिर पल भर में सब भुलाना|
************Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi************
दिन बीत गये वो यादें हो गयीं अब धुंधली सी
वो भूल गई थी मुझको, मुझे यादें सताती थीं।
बात है यह काफी पुरानी,
दुनिया जहान बदल गए अब,
लेकिन दिल में है ताज़ा
आज भी वही अधूरी हसरत|
************Bachpan Ka Pyar Shayari************
जो आई आज वह मीठी याद
लो उसी की खातिर,
माँगती हूँ मैं
एक बार फिर|
************Bachpan Ka Pyar Shayari************

Bachpan Ka Pyar Shayari in Hindi

ना मिलती थी कभी ना बोलती थी कभी मुझसे,
कैसा प्यार था उसका वो कैसी प्रीत निभाती थी।
************Bachpan Ka Pyar Shayari************
मेरा मन नहीं लगता था उस दिन स्कूल में
जिस दिन वो भी स्कूल न आती थी|
ऐ ज़िन्दगी !
ला खड़ा करना दोबारा,
उस रास्ते के मुसाफिर को
मेरे रूबरू,
न जाने दूंगी इस बार उसे
अपने से कहीं दूर|
************Bachpan Ka Pyar Shayari************
मैं तो आज भी उससे ही मोहब्बत करता हूं
पर तब किसी और से झूठा प्यार करके वो मुझे आजमाती थी|
तभी आएगा सुकून मुझे
जब वाकिफ होगा वह
मेरी मोहब्बत से,
जो रहा आज तक बेखबर
मेरे हाल -ए -दिल से |
 
 
I hope you love all the above Shayaries, Which are provided by us if you Like this type of Shayari than please Visit on our wonderful site QuotesvsStatus.com

Also ReadAdvance Happy Holi Images 2020 , Teacher student Relationship Quotes

Leave a Comment